ड्यिूटी दौरान शहीद हुए पुलिस आधिकारियों एवं कर्मचारियों के पारिवारिकजनों को मुआवज़ा देने के लिए नई नीति जल्द होगी जारी-डी.जी.पी.

Director General of Police

ड्यिूटी दौरान शहीद हुए पुलिस आधिकारियों एवं कर्मचारियों के पारिवारिकजनों को मुआवज़ा देने के लिए नई नीति जल्द होगी जारी-डी.जी.पी.

Punjab E News :  डायरैकटर जनरल आफ पुलिस पंजाब दिनकर गुप्ता ने कहा कि समाज विरोधी तत्वों के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए शहीद हुए पुलिस आधिकारियों और कर्मचारियों के पारिवारिकजनो को मुआवज़ा देने के लिए नई नीति को जल्द जारी किया जायेगा।

           डी.जी.पी. श्री दिनकर गुप्ता और पुलिस कमिशनर जालंधर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने आज हैड कांस्टेबल गुरदीप सिंह जोकि ०१ अक्तूबर को नशा समग्गलरोंं के विरुद्ध कार्यवाही के दौरान शहीद हो गए थे की अंतिम अरदास में शामिल होकर श्रद्धा के फूल अर्पित किये गए।

           इस अवसर पर सभा को संबोधन करते हुए डी.जी.पी.ने कहा कि पंजाब पुलिस दुखी परिवारजनों  को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है उन्होने कहा कि नई नीति पंजाब के मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के विचार अधीन है और जल्दी ही इसको अंतिम रूप दे दिया जायेगा। उन्होने  कहा कि पुलिस कर्मियों के कल्याण के लिए इस नेक कार्य के लिए किसी प्रकार की कोई कमी शेष नहीं छोड़ी जायेगी।

          पंजाब के लोगों की पूरी लगन से सेवा करने की पुरातन रिवायत को याद करते हुए डी.जी.पी. ने कहा कि अब तक १८०० पुलिस कर्मियों ने मातृ भूमि की सेवा के लिए अपना बलिदान  दिया हैं। उन्होने  कहा कि अतंकवाद के काले दिनों के अतिरि1त जब भी ज़रूरत पड़ी है पंजाब पुलिस ने अपनी ड्यिूटी बहुत ही लगन और कुशलता से निभाई है। उन्होने कहा कि पुलिस विभाग की तरफ से भविष्य में भी अपनी सेवाओं को पूरी लगन से निभाई जाती रहेंगी।

              शहीद गुरदीप सिंह को श्रद्धा के फूल भेंट करते हुए उन्होने कहा कि शहीद ने समाज विरोधी तत्वों के विरूद्ध  अपनी ड्यिूटी को बहुत ही साहस9वीरता से निभाया है। उन्होनें कहा कि इस घिनौने जुर्म में लिप्त किसी को भी किसी कीमत पर सहन नहीं किया जायेगा और दोषियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होने इस दुख की घड़ी में परिवार को हर संभव सहायता और सहयोग का विश्वास दिलाया । 

          इस अवसर लोक सभा मैंबर चौधरी संतोख सिंह ने शहीद को श्रद्धा के फूल भेंट करते हुए कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह का नेतृत्व वाली राज्य सरकार इस दुख की घड़ी में परिवार को हर संभव सहायता  देने के लिए प्रतिबद्ध है।

            इस अवसर पर  शहीद को श्रद्धांजलि भेंट करते हुए विधायक जालंधर पश्चिमी श्री सुशील कुमार रिंकू ने कहा कि इस दुख समय परिवार को सहायता पहुँचाने में कोई कमी शेष नहीं छोड़ी जायेगी। उन्होने कहा कि शहीद गुरदीप सिंह की तरफ से दी गई शहादत को सभी की तरफ से हमेशा याद रखा जायेगा। श्री रिंकू ने कहा कि शहीद ने मातृ भूमि की सेवा का जज़्बा अपने पिता श्री.जगजीत सिंह से लिया है जो कि पैरा मिलटरी फोर्स से बतौर सब इंस्पैकटर सेवा मुक्त हुए हैं।

          इस अवसर पर डी.जी.पी., लोक सभा मैंबर, विधायक, पुलिस कमिशनर और अन्यों की तरफ से शहीद के पारिवारिक सदस्यों पिता जगजीत सिंह, माता कुशल्या देवी और पत्नी नवनीत कौर से दुख सांझा किया गया।

            इस अवसर पर विधायक बलविन्दर सिंह लाडी, डी.जी.पी.(रिटा.) माहल सिंह भुल्लर, आई.जी. आर.के.जैसवाल, डिप्टी कमिशनर पुलिस गुरमीत सिंह, नरेश डोगरा और अरुण सैनी, अतिरि1त डिप्टी कमिशनर पुलिस डी.सुधरविजी और पी.एस.भंडाल के अतिरि1त अन्य  भी उपस्थित थे।


Oct 10 2019 6:45PM
Director General of Police
Source: Punjab E News

Crime News

Leave a comment