राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने पंजाब सरकार से भाई निर्मल सिंह खालसा के साथ मौत से पहले तथा बाद में हुए भेदभाव की जांच के लिए सिट का गठन करने के लिए कहा

National Commission for Scheduled Castes

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने पंजाब सरकार से भाई निर्मल सिंह खालसा के साथ मौत से पहले तथा बाद में हुए भेदभाव की जांच के लिए सिट का गठन करने के लिए कहा

Punjab E News :  अनुसूचित जाति आयोग ने पंजाब सरकार को दिशा निर्देश दिया है कि वह पदम श्री भाई निर्मल सिंह खालसा के साथ मौत से पहले तथा बाद में हुए भेदभाव की जांच के लिए वरिष्ठ सिविल तथा पुलिस अधिकारियों की एक विशेष जांच टीम (सिट) का गठन करे।


इसका खुलासा करते हुए शिरोमणी अकाली दल के पूर्व विधायक इंदर इकबाल सिंह अटवाल ने कहा कि उनके द्वारा इस संबधी आयोग ने चेयरमैन प्रोफेसर रामशंकर कथेरिया को दी शिकायत के बाद राष्ट्रीय आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव तथा डीजीपी को नोटिस जारी कर दिए हैं।


      इंदर इकबाल अटवाल ने कहा कि उन्होने राष्ट्रीय आयोग को लिखे पत्र में बताया था कि किस तरह अमृतसर के सरकारी अस्पताल में उपचार के समय तथा मौत के बाद वेरका के शमशानघाट में अंतिम संस्कार से इंकार करके हजूरी रागी भाई निर्मल सिंह अटवाल से भेदभाव किया गया था। उन्होने भाई खालसा की अपने परिवार के साथ टेलीफोन पर हुई अंतिम बातचीत के बारे में भी बताया, जिसमें भाई खालसा ने खुलासा किया था कि चार घंटे से उनका उपचार नही किया गया तथा उन्होने  अंतिम फतेह बुला दी थी। उन्होने यह भी बताया कि किस तरह एक सरकारी मास्टर, जोकि पंजाब प्रदेश कांग्रेस का सचिव था तथा जिसकी पत्नी एक पार्षद थी, ने भाई खालसा का अंतिम संस्कार होने से रोकने के लिए वेरका के शमशानघाट को ताला लगा दिया था।


      पूर्व अकाली विधायक ने आयोग को यह भी बताया था कि भाई निर्मल सिंह मजहबी समुदाय से संबध रखते थे तथा उनकी दुखदाई मौत ने सिख पंथ खासतौर पर दलित तथा मजहबी समुदाय को हिलाकर रख दिया है। उन्होने कहा कि भाई खालसा के किए गए अपमान को समुचा मजहबी समुदाय अपने अपमान के तौर पर देख रहा है।


        यह टिप्पणी करते हुए कि पंजाब सरकार को यह सुनिश्चित बनाना चाहिए था कि हजूरी रागी का इस तरह अपमान न किया जाता, सरदार अटवाल ने राष्ट्रीय आयोग से इस मामले की जांच करवाने की अपील की थी। उन्होने एक अलग याचिका पंजाब स्टेट अनुसूचित जाति आयोग के चेयरपर्सन तेजिंदर के पास भी डाली थी।


Apr 5 2020 9:35PM
National Commission for Scheduled Castes
Source: Punjab News

Crime News

Leave a comment