Breaking News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैंकों और एनबीएफसी के साथ की बातचीत

PM Modi talk

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैंकों और एनबीएफसी के साथ की बातचीत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को बैंकों और गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के प्रमुखों के साथ हम बैठक की और विकास में वित्तीय और बैंकिंग प्रणाली की महत्वपूर्ण भूमिका पर चर्चा की।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि छोटे उद्यमियों, एसएचजी, किसानों को अपनी ऋण जरूरतों को पूरा करने और विकसित करने के लिए संस्थागत ऋण का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। स्थिर ऋण वृद्धि सुनिश्चित करने के लिए हर बैंक को अपनी व्यवस्थाओं की समीक्षा करनी चाहिए। 

बैंकों को सभी प्रस्तावों को एक ही कसौटी से नहीं परखना चाहिए। उन्हें इन्हें अलग-अलग नजरिये से देखना चाहिए और बैंकेबल प्रस्तावों की पहचान करनी चाहिए और उन्हें पूर्व के एनपीए के नाम पर मुश्किल नहीं होनी चाहिए। बैठक में इस बात पर जोर दिया गया कि सरकार पूरी मजबूती के साथ बैंकों के साथ खड़ी है।

बैंकों को सेंट्रलाइज्ड डेटा प्लेटफॉर्म्स, डिजिटल डॉक्टूमेंटेशन आदि फिनटेक अपनाने चाहिए। इससे उन्हें अपनी क्रेडिट पहुंच बढ़ाने, ग्राहकों के लिए चीजें आसान बनाने, लागत कम करने और धोखाधड़ी से बचने में मदद मिलेगी। भारत ने डिजिटल ट्रांजैक्शन करने के लिए मजबूत और किफायदी इन्फ्रास्ट्रक्चर बनाया है। बैंकों और वित्तीय संस्थाओं को अपने ग्राहकों के बीच रूपे और यूपीआई के चलन को प्रोत्साहित करना चाहिए। 

बैठक में एमएसएमई के लिए एमरजेंसी क्रेडिट लाइन, अतिरिक्त केसीसी कार्ड, एनबीएफसी और एमएफआई के लिए लिक्विडिटी विंडो आदि योजनाओं की भी समीक्षा की गई। बैठक में कहा गया कि अधिकांश स्कीमों में उल्लेखनीय प्रगति हुई है लेकिन बैंकों को प्रोएक्टिव होने और लक्षित लाभार्थियों के साथ सक्रियता से जुड़ने की जरूरत है ताकि संकट के इस दौर में उन्हें समय पर ऋण सहायता मिल सके।


Jul 30 2020 6:02PM
PM Modi talk
Source:

Crime News

Leave a comment





Talhan Talhan

Latest post

रणवीर सिंह के साथ मुंबई स्थित घर पहुंचीं दीपिका पादुकोण, 26 सितंबर को NCB करेगी पूछताछ --- किसान विधयेक के विरोध में रेल रोको आंदोलन शुरू, पंजाब में राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन की घोषणा --- कृषि मंत्री नरेन्द्र तोमर को पंजाब कांग्रेस का 2017 का मैनीफैस्टो अच्छी तरह पढऩे के लिए कहा जो न्यूनतम समर्थन मूल्य के साथ छेड़छाड़ किए बिना ए.पी.एम.सी. एक्ट के नवीकरण की बात करता है --- राज्य के 9355 गांवों और शहरों में साप्ताहिक मुहिम के अंतर्गत करवाए गए जागरूकता प्रोग्राम यूथ क्लबों, एन.एस.एस. इकाईयों और रैड्ड रिबन क्लबों ने दिया योगदान --- कांग्रेस किसान विरोधी कानूनों को रद्द करवाने के लिए हर स्तर पर लड़ाई लड़ेगी: जाखड़ --- बिलों के साथ किसान, आढ़ती, मजदूर और मंडीकरण ढांचा तबाह हो जाएगा, तथाकथित सुधारों के नाम पर पंजाब की किसानी के साथ केंद्र ने किया द्रोह : राणा सोढी