Breaking News

उत्तरी राज्यों के पुलिस प्रमुख गैंगस्टर कार्यवाहियों और नशा तस्करी रोकने के लिए हुए एकजुट, अपराधों के आंकड़े सांझे करने के लिए पंचकुला में बनेगा सांझा पुलिस और ड्रग सचिवालय

cut the supply chain of narcotics and drugs

उत्तरी राज्यों के पुलिस प्रमुख गैंगस्टर कार्यवाहियों और नशा तस्करी रोकने के लिए हुए एकजुट, अपराधों के आंकड़े सांझे करने के लिए पंचकुला में बनेगा सांझा पुलिस और ड्रग सचिवालय
Punjab E News:-  सात उत्तरी राज्यों के पुलिस प्रमुखों की सांझी मीटिंग के दौरान इस क्षेत्र में नशा तस्करी को रोकने के लिए सांझी रणनीति बनाने के अलावा नशा तस्करों और गैंगस्टरों सम्बन्धी आपस में सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए समूह अधिकारी एक सांझा पुलिस और ड्रग सचिवालय स्थापित करने के लिए सहमत हुए।
        उत्तर क्षेत्रीय पुलिस तालमेल कमेटी की यह मीटिंग डी.जी.पी पंजाब श्री दिनकर गुप्ता की तरफ से बुलायी गई थी जिसमें हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, उत्तराखंड, राजस्थान और नयी दिल्ली के सीनियर पुलिस अधिकारी शामिल थे।
        समूह पुलिस प्रमुख डी.जी.पी. पंजाब के इस प्रस्ताव पर भी सहमत हुए कि मैंबर राज्यों की पुलिस के साथ सूचानाओं के तुरंत आदान-प्रदान के लिए सूचना तकनीक पर आधारित एक साझा मंच तैयार किया जाये जिससे नशा तस्करों और गैंगस्टरों के खि़लाफ़ मुहिम चलाने के लिए बेहतर तालमेल हो सकेगा और अच्छे नतीजे मिल सकेंगे। डीजीपी पंजाब के इस प्रस्ताव पर भी मीटिंग में सहमति बनी कि उत्तरी राज्यों के पुलिस प्रमुखों की सांझी मीटिंग तीन महीनों बाद बारी-बारी अलग-अलग राज्यों में बुलायी जाये। इसी तरह आतंकवाद विरोधी दस्ता (ए.टी.एस), विशेष कार्यवाही दल (एस.ओ.जी), विशेष टास्क फोर्स (एस.टी.एफ) और विशेष सैलों के पुलिस प्रमुखों की साझी मीटिंग दो महीनों बाद बुलायी जाये जिससे विभिन्न जुर्मों के साथ संबंधित सूचना और आंकड़े मैंबर राज्यों के साथ साझे किये जा सके और कारगुज़ारी की समीक्षा की जा सके।
        मीटिंग में उपस्थित समूह पुलिस अधिकारियों ने डी.जी.पी हरियाणा मनोज यादव द्वारा पंचकुला में साझा पुलिस और ड्रग सचिवालय स्थापित करने पर सहमती जतायी जहाँ कि मैंबर राज्यों के नोडल पुलिस अफ़सर बैठ कर सम्बन्धित मैंबर राज्यों के साथ नशा तस्करों, गैंगस्टरों और अन्य गंभीर संगठित जुर्मों सम्बन्धी एक दूसरे के साथ सूचना और आंकडा़े का आदान-प्रदान कर सकें। समूह पुलिस मुखियों ने जेल सुधारों पर भी ज़ोर दिया और कहा कि नशों के खि़लाफ़ मुहिम के दौरान नशों की माँग घटाने के लिए स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग समेत ग़ैर सरकारी संस्थाओं को भी शामिल किया जाये। 
        हिमाचल प्रदेश के डी.जी.पी सीता राम मारड़ी ने कहा कि नशीले पदार्थों की सप्लाई लाईन को तोडऩे के लिए पड़ोसी राज्यों के बीच एक तालमेल मुहिम, साझी कार्रवाई और ख़ुफिय़ा जानकारी साझा करने की ज़रूरत है। पंजाब और हिमाचल प्रदेश द्वारा पठानकोट और कांगड़ा इलाकों में अपराध के खि़लाफ़ साझी मुहिम चलाने का भी फ़ैसला लिया गया। उन्होंने यह भी प्रस्ताव दिया कि मोबाईल फोन कनैक्शन और बैंक खाता खोलते समय बायोमैट्रिक पहचान विवरण हासिल करना ज़रूरी बनाया जाए।
        चंडीगढ़ के डी.जी.पी संजय बेनीवाल ने उत्तरी राज्यों में महाराष्ट्र संगठित अपराध रोकथाम कानून (मकोका) लागू करने का प्रस्ताव किया जिससे गैंगस्टरों से प्रभावशाली तरीकों से निपटा जा सके। पुलिस मुखियों ने उनकी सलाह पर यह भी फ़ैसला लिया कि पंजाब पुलिस की तरफ से चलाए गए ‘पंजाब आर्टिफिशियल इंटैलीजैंस सिस्टम’ को दूसरे राज्यों में भी प्रयोग करने की संभावनाएं तलाशी जाएँ। राजस्थान के ए.डी.जी.पी/ए.टी.एस और एस.ओ.जी अनिल पालीवाल ने अलग-अलग राज्यों में नशों और अपराधों में शामिल विदेशियों को वापस भेजने के लिए उठाए जाने वाले कदमों सम्बन्धी प्रस्ताव रखा।
        आई.जी.पी. /कानून और व्यवस्था उत्तराखंड दीपम सेठ ने मैंबर राज्यों के लिए नशों के विरुद्ध ठोस उपाय पर एक साझी व्यापक नीति विकसित करने का प्रस्ताव रखा जिसमें पुलिस केंद्रीय बल और विभाग शामिल होने चाहिए हैं।
        मीटिंग में दूसरों के अलावा डी.जी.पी. /इंटेलिजेंस पंजाब वी.के. भावड़ा, डी.जी.पी./अपराध हरियाणा पी.के. अग्रवाल, ए.डी.जी.पी/सी.आई.डी हरियाणा अनिल कुमार राव, आई.जी.पी /इंटेलिजेंस हिमाचल प्रदेश दिलजीत कुमार ठाकुर, ए.डी.जी.पी./एस.टी.एफ. पंजाब गुरप्रीत दिओ, डी.आई.जी /यू.टी. चंडीगढ़ डा. ओ.पी. मिश्रा, अतिरिक्त सी.पी क्राइम नयी दिल्ली डा. अजीत कुमार सिंगला, आई.जी/एस.टी.एफ आर.के. जैसवाल और कौसतुभ शर्मा डी.आई.जी/ एस.टी.एफ पंजाब भी मौजूद थे।

Jul 17 2019 10:58PM
cut the supply chain of narcotics and drugs
Source: Punjab E News

Crime News

Leave a comment





कपूरथला के राहत कार्यों में 5 ऐंबूलैंसों, 20 मैडीकल टीमों और 16 नावों को किया शामिल, दो दिनों में 1600 राशन पैकटों सहित 20 लीटर वाले पानी के कैन बांटे --- अरूण जेटली एक उदार ,धर्मनिरपेक्ष भारत तथा पंजाबियत के प्रतीक थेः सरदार बादल --- अरूण जेटली एक उदार ,धर्मनिरपेक्ष भारत तथा पंजाबियत के प्रतीक थेः सरदार बादल --- कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा केंद्र सरकार से बाढ़ प्रभावित राज्यों की सूची में पंजाब को भी शामिल करने की मांग --- पंजाब सरकार द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के किसानों को आगामी रबी सीजन के लिए गेहूँ के उच्च उपज वाले बीज करवाए जाएंगे मुफ़्त मुहैया --- कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा अरुण जेतली के निधन पर दुख व्यक्त