बिज़नेस या व्यापार में घाटा या नुक्सान के योग, जानिए

profitable business yog kundli

बिज़नेस या व्यापार में घाटा या नुक्सान के योग, जानिए
बिज़नेस में घाटा या नुक्सान के योग

आज हम आपको उन लोगो के बारे जानकारी दे रहे है, जो लोग अपना काम बिज़नेस कर रहे है या करना चाहते है

कुंडली में अगर बुध देव और शनि देव शुभ हो तो अपने काम करने से लाभ ही मिलता है।

इस लिये कुंडली में बुध का और शनि का और उतना ही गुरु का शुभ होना जरुरी होता है।
कई लोग ऐसे होते है जो अपना बिज़नेस तो जरुर करते है, लेकिन उनका बिज़नेस में पैसा फसता रहता है। लेकिन कहीं ना कही से फिर इन्वेस्ट करते रह्ते है चाहे कहीं से कर्ज लेकर ही क्यू ना फिर से शुरु करना पड़े।आए दिन उतार चडाव देखने को मिलते है।

जिनकी कुंडली में बुध देव बहुत अशुभ अवस्था में हो ऐसे इन्सान को अपना बिज़नेस करना नही चाहिए। लेकिन अगर वो करना ही बिज़नेस चाहते है और जो कर भी रहे है उन्के लिये कुछ योग की जानकारी है।

अगर आपकी कुंडली में बुध देव राहु के टकराव में होंगे तो ये इक ऐसा योग बनता है। जिस से जातक को अपने काम में बार बार नुक्सान देखने को मिलता है। जैसे अगर बुध 12वे भाव में है और राहु अष्टम भाव में हो।

दूसरा योग: यदि कुंडली में बुध तीसरे भाव में हो और मिथुन राशी 9वे भाव में और कन्या राशी 12वे भाव में हो तो ऐसे में मंगल बध हो जाता है, ये भी ऐसा योग होता है जिससे इन्सान बार बार काम बदलता है और काम बन्द या ठप होता है।

अगला योग : यदि राहु और बुध का मेल 6,8,12 घरो का बन जाये तो बिज़नेस मै ऐसे हालात बन जाते है की नये कस्टमर आते नही और धीरे धीरे पुराने भी चले जाते है।

ऐसे मै इन्सान को बुध को अच्छा करने के लिये बुध के उपाय जरुर करने चाहिये।

उपाय: 
अगर आपके घर शंख या गिटार तबला हो उसको घर पर ना रखे
हरे रंग से परहेज रखे
हरे रंग की वस्तुय का दान करे
चलते पानी में कौडीया जल प्रवाह करे

अगर आपका कोई सवाल हो तो आप हमे सम्पर्क कर सकते।

Astrologer
ज्योति कौशल
8837846039
9814801444

Jan 14 2020 9:06AM
profitable business yog kundli
Source: Punjab E News

Crime News

Leave a comment