Breaking News

सरकार में नज़रअंदाज़ी बढ़ती देख राहुल गाँधी से मिलने पहुंचे सिद्धू

punjab congress navjot sidhu rahul gandhi cm captain amrinder singh

सरकार में नज़रअंदाज़ी बढ़ती देख राहुल गाँधी से मिलने पहुंचे सिद्धू

 

New Delhi (punjab e news ) बात केबल माफिया की हो ,रेत खनन पॉलिसी की या फिर वन टाइम सेटलमेंट स्किम तहत अवैध कॉलोनियों को रेगुलर करने की, कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू को हर मोर्चे पर सी एम कैप्टन तथा उनके करीबियों से दो चार होना पड़ा है। 


   अभी कल की ही बात है जब सी एम से सिद्धू द्वारा अकाली भाजपा सरकार द्वारा किये गए विज्ञापन घोटाले के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इसे सिरे से नकार दिया। बोले अब इसका कोई तुक नहीं की उन्होंने विज्ञापनों पर कितने पैसे खर्च कर दिए। सिद्धू अंदर से भरे पड़े थे, सो बुधवार को वह दिल्ली दरबार पहुंच गए। मीडिया  में आयी रिपोर्ट के मुताबिक सिद्धू ने किसी से भी कोई नाराज़गी होने से इंकार किया है। 


    चलो मान लेते है। यह सब ब्यान शुद्ध सियासी होते हैं। इसमें कोई शक नहीं की सिद्धू ने अपने मन की बात पार्टी प्रधान से की। लेकिन वह शायद भूल गए की फिलहाल अमरिंदर सिंह  कांग्रेस के कैप्टन हैं। यह राहुल की ही सलाह थी उन्हें बाहर जा कर भी अपना गुस्सा छुपाना पड़ रहा है।  जानकारी के अनुसार सिद्धू की व्यथा सुनने के बाद राहुल ने निजी तौर पर कैप्टन से बात करने की हामी भरी है।  


Aug 1 2018 7:25PM
punjab congress navjot sidhu rahul gandhi cm captain amrinder singh
Source: punjab e news

Crime News

Leave a comment





Tadlhan Talhan Talhan

Latest post

बाइक को लगी आग, दो युवक झुलसे --- चंद्र ग्रह कमजोर तो मन कमजोर, इस मंत्र का इस दिन करे जाप तो मिलेगा लाभ: जाने --- अकाली दल ने मुख्यमंत्री से कानून-व्यवस्था से समझौता न करते हुए अपनी कैबिनेट के दागी मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा, सुखजिंदर रंधावा को क्लीन चिट दिलाने के प्रयास को किया खारिज --- विजैइन्दर सिंगला को तुरंत बर्खास्त करें कैप्टन - भगवंत मान, सिंगला की बर्खास्तगी को लेकर राज्यपाल को मिलेगा ‘आप’ का प्रतिनिधिमंडल - हरपाल सिंह चीमा --- अकाली दल द्वारा एनडीए सरकार के नागरिकता संशोधन विधेयक को कल मंजूरी के लिए संसद में लाने के फैसले की प्रंशसा, कहा कि धर्म के आधार पर मुस्लिम व्यक्तियों को बाहर नही रखा जाना चाहिए --- राज्यपाल बदनौर द्वारा 71वें आम्र्ड फोर्सिज़ झंडा दिवस के अवसर पर शहीदों को श्रद्धांजलि