अध्यापक दिवस के मौके पर 55 अध्यापकों को स्टेट अवॉर्ड, प्रत्यक्ष भर्ती वाले 1933 हैड टीचरों और सैंटर हैड टीचरों को नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया शुरू

state awards for teachers

अध्यापक दिवस के मौके पर 55 अध्यापकों को स्टेट अवॉर्ड, प्रत्यक्ष भर्ती वाले 1933 हैड टीचरों और सैंटर हैड टीचरों को नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया शुरू

Punjab E News :  राष्ट्र के निर्माण में अध्यापकों की भूमिका की महत्ता पर ज़ोर देते हुए पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने अध्यापकों को विद्यार्थियों में ठोस और नैतिक मूल्य पैदा करने पर अपना पूरा ध्यान केन्द्रित करने का न्योता दिया है।

आज अध्यापक दिवस के मौके पर शिक्षा मंत्री ने 55 अध्यापकों को स्टेट अवॉर्ड के साथ सम्मानित किया और प्रत्यक्ष भर्ती वाले 1933 हैड टीचरों और सैंटर हैड टीचरों को नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया शुरू की। पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के ऑडीटोरियम में अध्यापकों को संबोधन में श्री सिंगला ने कहा कि विद्यार्थी देश का भविष्य हैं और इन्होंने ही आगे जाकर देश की बागडोर संभालनी है जिस कारण इनकी बुनियाद को मज़बूत बनाना बहुत ज़रूरी है। उन्होंने विद्यार्थियों की तकदीर बदलने और उनमें राष्ट्रवाद की भावना और नैतिक मूल्य पैदा करने के लिए अध्यापकों को अपनी भूमिका निभाने की अपील की। उन्होंने कहा कि अध्यापक हमेशा ही विद्यार्थियों के लिए मार्गदर्शक होते हैं और जब उनको चुनौतियां पेश आती हैं तो वह उनसे नेतृत्व लेते हैं और अध्यापक ही देश के रौशन भविष्य को यकीनी बनाते हैं।
      स्टेट अवॉर्ड प्राप्त करने वाले अध्यापकों को बधाई देते हुए शिक्षा मंत्री ने प्रसिद्ध शिक्षा माहिर, महान दर्शन शास्त्री और भारत के पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय डा. सर्वपल्ली राधा कृष्णन को भी याद किया जिनके जन्म दिवस के सम्बन्ध में अध्यापक दिवस मनाया जाता है। उन्होंनेइ कहा कि राज्य सरकार अध्यापकों के कल्याण और उनको उपयुक्त माहौल प्रदान करने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है। इसके साथ ही उन्होंने अध्यापक भाईचारे को अपनी जि़म्मेंदारी और भी वचनबद्धता, दृढ़ता और संजीदगी के साथ निभाने का न्योता दिया।
     सिंगला ने अध्यापकों की तबादला नीति को रूप देने के लिए सचिव स्कूल शिक्षा श्री कृष्ण कुमार की प्रशंसा की।
इसी दौरान शिक्षा मंत्री ने स्कूली खेल प्रबंध को मज़बूत बनाने और स्कूलों में खेल सरगर्मियाँ बढ़ाने पर भी ज़ोर दिया। उन्होंने नयी खेल नीति जल्द बनाने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि खेल बच्चों की तंदुरुस्ती का राज हैं और इसको अनदेखा नहीं किया जा सकता। उन्होंने गरीब बच्चों की पढ़ाई पर विशेष ज़ोर दिया। शिक्षा मंत्री ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व में शिक्षा नीति और सूचना के अधिकार पर ध्यान केन्द्रित करने वाला पंजाब पहला राज्य है और इसने प्री स्कूल शिक्षा नीति पर विशेष ज़ोर दिया है।
        सचिव स्कूल शिक्षा कृष्ण कुमार ने इस मौके पर विभाग द्वारा पहलकदमियों पर रौशनी डाली। अवॉर्ड विजेता अध्यापकों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि इस और अध्यापक भी प्रेरित होंगे और वह भी मुकाबलेबाज़ी में बढिय़ा सेवाएं निभाएंगे। प्रत्यक्ष भर्ती का जि़क्र करते हुए शिक्षा सचिव ने कहा कि यह पूरी तरह पारदर्शी ढंग से की गई है।
      इस मौके पर वल्र्ड स्पैशल ओलंपिक आबूधाबी में पदक जीतने वाले स्पैशल खिलाडिय़ों का सम्मान भी किया गया। इस मौके पर 55 अध्यापकों को स्टेट अवॉर्ड और 17 प्रशंसा पत्र भी दिए गए।
     इस मौके पर मुहम्मद तैयब डी.जी.एस.ई., इन्द्रजीत सिंह डायरैक्टर राज्य शिक्षा अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद् (एस.सी.ई.आर.टी), सुखजीत पाल सिंह डीपीआई सेकेंड्री शिक्षा पंजाब, बलदेव सचदेवा, वाइस चेयरमैन पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड उपस्थित थे। इस मौके पर स्टेज सचिव की जि़म्मेदारी रवीन्दर कौर गरेवाल ने निभाई।
       स्टेट अवॉर्ड पाने वाले अध्यापकों की सूची-आशू विशाल जी.एस.एस.एस. संघाना (अमृतसर), बलराज सिंह जी.एस.एस.एस. लोपोके (अमृतसर), भूपिन्दर सिंह जी.एस.एस.एस. भकना कलाँ (अमृतसर), जसविन्दर सिंह जी.एच.एस. कमसके (अमृतसर), मनदीप कौर बल जी.एस.एस.एस. माल रोड (अमृतसर), रवीन्द्र पाल सिंह जी.एस.एस.एस. संधू पट्टी (बरनाला), संजीव कुमार जी.एस.एस.एस. तपा (बरनाला), सिमरदीप सिंह जी.एच.एस. भैनी जस्सा (बरनाला), सुरिन्दर सिंह जी.एच.एस. दिक्ख (बठिंडा), रजिन्दर कुमार जी.पी.एस. वडा भाईका (फरदीकोट), जसप्रीत सिंह जी.एच.एस. आरियां माजरा (फतेहगढ़ साहिब), रूबी खुल्लर जी.एस.एस.एस. लटौर (फतेहगढ़ साहिब), ब्रिज मोहन सिंह जी.एस.एस.एस. माहमू जोइया (फाजिल्का) ओम प्रकाश जी.पी.एस. जोरकी अंधेवाली (फाजिल्का), प्रवीण लता जी.एस.एस.एस. (फाजिल्का), पवन कुमार जी.एस.एस.एस. जलालाबाद (फाजिल्का) सुरिन्दर नागपाल जी.पी.एस. धनी शिव शाकिया (फाजिल्का), गुरजीत सिंह जी.पी.एस. सुखे वाला (फिरोज़पुर), जगदीप सिंह जी.एस.एस.एस. माना सिंह वाला (फिरोज़पुर), महिंदर सिंह जी.पी.एस. महालम (फिऱोज़पुर), उमेश कुमार रंगबुल्ला जी.एस.एस.एस. गर्लज़ जी एच एच एस (फिऱोज़पुर), राजविन्दर पाल कौर जी.पी.एस. वज्जे चक्के गुरदासपुर (गुरदासपुर), डॉ. कुलदीप सिंह जी.एस.एस.एस. अम्बाला जट्टां (होशियारपुर), रमनदीप सिंह जी.पी.एस. धामियां (होशियारपुर), मनजिन्दर कौर जी.पी.एस. नूरपुर (जालंधर), जसविन्दर पाल जी.एच. भादस (कपूरथला), अशोक कुमार जी.एस.एस.एस. कोटरा कलाँ (मानसा), गुरनायब सिंह जी.पी.एस. मंघानियां (मानसा), जगजीत सिंह जी.पी.एस. मूसा (मानसा), जसमीत सिंह जी.एस.एस.एस. चहिलां वाला (मानसा), मक्खन सिंह जी.एस.एस.एस. बछौना (मानसा), परविन्दर सिंह जी.पी.एस. घरंगना (मानसा), सतपाल सिंह जी.पी.एस. जीत सर बछौना (मानसा), वनीत कुमार सिंगला जी.एस.एस.एस. बुढलाडा (मानसा), चरण सिंह जी.एस.एस.एस. खोसा रणधीर (मोगा), अशोक कुमार जी.एच.एस. दोला (मुक्तसर), सुरिन्दर सिंह जी.पी.एस. गोबिंद नगरी (मुक्तसर), अमरजोत सिंह जी.एस.एस.एस. मल्टीपर्पज़ (पटियाला), अवतार सिंह जी.पी.एस. कादरा बाद (पटियाला), डॉ. रजनीश गुप्ता जी.एस.एस.एस. बहादुरगढ़ (पटियाला), प्रगट सिंह जी.एस.एस.एस. फील ख़ाना (पटियाला), पूनम गुप्ता जी.एम.एस. खेड़ी गुज्जरां (पटियाला), प्रभदीप कौर जी.पी.एस. भंगल (रूपनगर), विकास वर्मा जी.पी.एस. रेलवे रोड नंगल (रूपनगर), शरणजीत कौर जी.पी.एस. निम्बूआं (एस.ए.एस.), चरण सिंह जी.एस.एस.एस. गर्लज़ धुरी (संगरूर), प्रवीण कुमार जी.एस.एस.एस. घनौरी कलाँ (संगरूर), सुरिन्दर सिंह जी.एस.एस.एस. सुनाम लडक़े (संगरूर), नवदीप सिंह जी.ई.एस. कोटली सारू ख़ान (तरन तारन), सुखविन्दर सिंह जी.ई.एस. पंडोरी तख्त मल (तरन तारन), अरुण जैन जी.एस.एस.एस. फ़ीलख़ाना (पटियाला), निरलेप कौर जी.एस.एस.एस. घोगा (पटियाला), आँचल जी.पी.एस. हिना खुर्द (पटियाला), डॉ. इंदरजीत सिंह जी.एच.एस. काला ( अमृतसर), जसवीर सिंह जी.पी.एस. फेज़-9 (एस.एस. नगर) शामिल हैं। 

Sep 5 2019 4:12PM
state awards for teachers
Source: Punjab E News

Crime News

Leave a comment