यू जी सी द्वारा एलपीयू डिस्टेंस एजुकेशन के साइकोलॉजी और पंजाबी विषयों में भी मास्टर प्रोग्राम को मंजूरी

University Grants Commission

यू जी सी द्वारा एलपीयू डिस्टेंस एजुकेशन के साइकोलॉजी और पंजाबी विषयों में भी मास्टर प्रोग्राम को मंजूरी
 इच्छुक विद्यार्थी अब अपनी आवश्यकताओं के अनुसार इस अवसर का लाभ उठा सकते हैं

पहले से ही उपलब्ध अन्य कार्यक्रम मैनेजमेंट, कॉमर्स, कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, आर्ट्स, लाइब्रेरी एंड इनफार्मेशन साइंस विषयों में हैं

punjab E News: भारत के विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के दूरस्थ शिक्षा ब्यूरो ने लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) को अपने ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग मोड के माध्यम से दो नए कार्यक्रम - साइकोलॉजी और पंजाबी में एम.ए. की डिग्री प्रदान करने की भी मान्यता प्रदान की है। यह प्रतिष्ठित मान्यता फरवरी-मार्च 2021 सत्र और उसके बाद के लिए है। पंजाबी और मनोविज्ञान में इन नए स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में प्रवेश पहले से ही खुला है।

     इन नए कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में इच्छुक विद्यार्थियों ने अपनी गहरी रुचि दिखाई है। कार्यक्रम सस्ती शुल्क संरचना के साथ सेमेस्टर मोड में पेश किए जा रहे हैं। पात्रता और अन्य विवरणों के बारे में पूछताछ करने के लिए, विद्यार्थी वर्किंग समय के दौरान 01824-521360 पर कॉल कर सकते हैं। 

   वर्तमान में,एलपीयू डिस्टेंस एजुकेशन  (डीई) मोड के माध्यम से एमबीए, बी बी ऐ, ऍम कॉम, बी कॉम , ऍम सी ऐ, ऍम एस सी आईटी, बीसीए, एमबीए, बी.एससी आईटी, डीसीए, एमएलआईएस, बीएलआईएस, डीएलआईएस, बी.ए. और एम.ए प्रोग्राम्स की पेशकश कर रहा है। स्टूडेंट्स और प्रोफेशनल्स, जो अपनी शैक्षिक योग्यता को अपग्रेड करना चाहते हैं, वे पंजाबी, मनोविज्ञान, एजुकेशन, इक्नोमिक्स, हिंदी, अंग्रेजी, हिस्ट्री, गणित, राजनीति विज्ञान और समाजशास्त्र  में से एमए कार्यक्रमों का विकल्प चुन सकते हैं। 

   वर्णनीय  है कि ओलंपिक, अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय खिलाड़ियों सहित सेना के कई अधिकारियों, इंडस्ट्री आदि के लोगों  ने अपनी शैक्षिक योग्यता बढ़ाने के लिए एलपीयू के दूरस्थ शिक्षा कार्यक्रमों का लाभ उठाया है । ये कार्यक्रम कई पुरस्कार विजेता ऑनलाइन लर्निंग मैनेजमेंट सिस्टम-  एलपीयू ई-कनेक्ट ’और इंटरैक्टिव मोबाइल ऐप- एलपीयू  टच’ द्वारा संचालित हैं। ये प्रणालियां उच्च शिक्षा के क्षेत्र में दूरी को कम करने और डिस्टेंस एजुकेशन के विद्यार्थियों को रेगुलर मोड के विद्यार्थियों को प्रदान किए जा रहे समान अवसर प्रदान करने के लिए भी हैं ।

Apr 8 2021 5:47PM
University Grants Commission
Source: Punjab E News

Leave a comment