कोरोना से लागों के जान जाने की फिक्र नहीं, कैप्टन व कांग्रेसियों को कुर्सी की ज्यादा परवाह- हरपाल चीमा

captain attitude dictatorship harpal singh cheema

कोरोना से लागों के जान जाने की फिक्र नहीं, कैप्टन व कांग्रेसियों को कुर्सी की ज्यादा परवाह- हरपाल चीमा

कैप्टन का रवैया तानाशाही,मोदी की तरह सियासी विरोधियों को डराने-धमकाने पर उतरे

अगर किसी मंत्री या विधायक के खिलाफ कोई केस था तो कैप्टन अभी तक उसे क्यों बचा रहे थे

Punjab E News:- आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के वरिष्ठ नेता व पंजाब विधानसभा में विपक्ष नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि राज्य के कांग्रेसी नेताओं को कोरोना महामारी से लोगों की जान जाने की फिक्र नहीं है, बल्कि कैप्टन और अन्य कांग्रेसियों को अपनी कुर्सी की ज्यादा परवाह है। उन्होंने ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से अपील की कि सत्ता की कुर्सी बचाने से पहले पंजाब के लगों की जिंदगियों की परवाह करें।

सोमवार को पार्टी के मुख्य कार्यालय से जारी ब्यान में हरपाल सिंह चीमा मे कहा कि एक तरफ पंजाब में कोरोना की मार दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही और पंजाब सरकार की नालायकी के कारण हजारों लोग मौत के मूंह में चले गए हैं। दूसरी तरफ कांग्रेसी नेताओं की आपसी लड़ाईयां भी दिन ब दिन तेज हो रही हैं। उन्होंने कहा कि हर रोज कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री, मंत्री और विधायक एक दूसरे को देखने-दिखाने के ललकारे मार रहे हैं। जबकि कोरोना के कारण तड़प रहे पंजाब को लोगों की जान बचाने की तरफ कैप्टन सरकार का कोई ध्यान नहीं है।

हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह का रवैया तानाशाही वाला है और वह मोदी की तरह सियासी विरोधियों को डराने-धमकाने पर उतर आए हैं। इस लिए कांग्रेसी मंत्रियों और विधायकों पर कानूनी कार्रवाई का जाल डाला जा रहा है। चीमा ने मुख्यमंत्री से सवाल पूछते हुए कहा कि अगर किसी मंत्री या विधायक के खिलाफ पहले से ही केस था तो कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उनके खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई क्यों नहीं की? कैप्टन अमरिंदर सिंह अभी तक उस मंत्री या विधायक को क्यों बचा रहे थे।

चीमा ने कहा कि पंजाब के लोग अच्छी तरह से जानते हैं कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और उनके मंत्रियों ने पिछले साढ़े चार के दौरान लोगों को क्या सहूलतें दी और कितना इंसाफ किया। उन्होंने कहा सभी कांग्रेसी सिर्फ लोगों की आंखों में धूल झोंकने और अपनी कुर्सी की सलामती की लिए लड़ रहे हैं।


May 17 2021 7:02PM
captain attitude dictatorship harpal singh cheema
Source: Punjab E News

Leave a comment