भगौड़े भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ चीन ने शुरू किया Manhunt Operation

china starts manhunt operation against fugitive corrupt officials

भगौड़े भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ चीन ने शुरू किया Manhunt Operation

Punjab E News (Jasvinder Kaur):चीन में लगातार भ्रष्टाचार के खिलाफ कदम उठाए जा रहे हैं। भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों और दूसरे देशों में भाग चुके लोगों पर चीन की कड़ी नजर है। बताया जा रहा है कि इस संदर्भ में साल 2022 में Manhunt Operation शुरू किया गया है। चीन के केंद्रीय भ्रष्टाचार रोधी समन्वय समूह के अनुसार, विदेशों से रह रहे भगौड़े भ्रष्ट अधिकारियों को पकड़ने और उनकी अवैध संपत्ति की वसूली के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

वहीं हाल ही में स्काई नेट 2022 नामक अभियान को व्यापक अध्ययन और गहन विचार-विमर्श के बाद एक बैठक में जारी किया गया। इसके साथ ही चीनी जन बैंक और MPS विदेशों में मौजूद संस्थाओं और भूमिगत बैंकों के माध्यम से अवैध धन हस्तांतरण को रोकने के लिए मिलकर काम करेंगे। गौरतलब है कि साल 2021 में कुल 1,273 भगोड़ों को चीन वापस लाया गया, जबकि 16.74 अरब युआन से ज्यादा का अवैध धन भी उनसे वसूला गया।

इतना ही नहीं हाल के वर्षों में चीन ने कई देशों के साथ प्रत्यर्पण संधियां भी संपन्न की हैं। ताकि भ्रष्टाचार में लिप्त व्यक्ति विदेशों में आराम से न घूम सकें और उन्हें चीन में वापस लाकर देश के कानून के मुताबिक दंड दिया जा सके। जाहिर है कि चीन गरीबी उन्मूलन की तरह भ्रष्टाचार को मिटाने पर भी पूरा ध्यान दे रहा है। क्योंकि साफ-सुथरी व्यवस्था से देश सही मायने में विकास के पथ पर अग्रसर हो सकता है। 

वहीं राष्ट्रीय पर्यवेक्षी आयोग व देश की शीर्ष भ्रष्टाचार-विरोधी संस्था के मुताबिक चीन ने 81 देशों के साथ 169 प्रत्यर्पण संधियां, न्यायिक सहायता संधियां और संपत्ति वापसी और साझाकरण समझौते संपन्न किए हैं। इसका मतलब है कि भ्रष्टाचार में शामिल कोई भी व्यक्ति नियमों का फायदा उठाकर देश के बाहर नहीं जा सकता है। इसके लिए चीन सरकार ने विभिन्न देशों के साथ समझौतों को अंतिम रूप दे दिया है। इससे जाहिर होता है कि चीन में धन का गबन कर विदेशों में भागने वालों की मुसीबत बढ़ चुकी है। यह चीन में भ्रष्टाचार को खत्म करने की दिशा में अहम कदम माना जा रहा है। 


2022-03-05 12:17:00.000
china starts manhunt operation against fugitive corrupt officials
Source: Punjab E News

Latest post

Political News

Crime News