चन्नी की कोई नैतिकता नही, यहां तक कि उन्होने लुधियाना शहर घोटाला मामले में अपने भाई मनमोहन सिंह को छुड़ाने के लिए मुझसे संपर्क किया : बादल

city scam case ludhiana

चन्नी की कोई नैतिकता नही, यहां तक कि उन्होने लुधियाना शहर घोटाला मामले में  अपने भाई मनमोहन सिंह को छुड़ाने के लिए मुझसे संपर्क किया : बादल

बादल परिवार परिवहन कंपनी से सरकार को देय करों के रूप में एकत्र किए गए कथित 14 करोड़ रूपये की रसीद दिखाने के लिए राजा वड़िंग को चुनौती दी

कंडी क्षेत्र विकास के लिए अलग मंत्रालय की घोषणा, शिअद-बसपा सरकार कंडी क्षेत्र में उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए नीति लाएगी

Punjab E News:-  शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने आज कहा है कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी में कोई नैतिकता नही है ,और उन्होने लुधियाना शहर घोटाले मामले से अपने भाई मनमोहन सिंह को नाम निकालने के लिए शिअद-भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान उनसे संपर्क किया था।

    बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार सुशील कुमार ‘‘पिंकी’’ शर्मा के समर्थन में जनसभाओं को संबोधित करने के बाद यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए शिअद अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ चन्नी को अपने भाई केा शहर घोटाला मामले में फंसाए जाने से बचाने के लिए मुझसे संपर्क करने में कोई संकोच नही था। उन्होने इसके लिए विनती की और एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में शिअद को अपना समर्थन दिया’’।

     मुख्यमंत्री को आत्ममंथन करने के लिए कहते हुए कहा कि वे अपने परिवार के सदस्यों को बचाने के लिए जिनपर भ्रष्ट आचरण का आरोप लगा था, के लिए जिस तरह व्यवहार किया था । सरदार बादल ने मुख्यमंत्री से कहा ‘‘ आज भी मेरे जेहन में वो पल ताजा हैं। नैतिकता का प्रचार करना यां भ्रष्टाचार पर बोलना आपको शोभा नही देता।

     अकाली दल अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से पहले उनके द्वारा किए गए वादों को लागू करने के लिए कहा। उन्होने कहा कि ‘‘ वह रेत कहां हैं जो लोगों को 5.50 रूपये प्रति घन फुट पर मिलनी चाहिए थी? उपभोक्ताओं को अभी भी 3 रूपये प्रति यूनिट की कटौती के बिना बिल क्यों प्राप्त हो रहे हैं, जिसकी आपने घोषणा की थी?

     यह कहते हुए कि चन्नी पंजाबियों को धोखा देने के लिए झूठ का सहारा ले रहे हैं। सरदार बादल ने कहा,‘‘ सच्चाई यह है कि मुख्यमंत्री खरड़-रोपड़ बेल्ट में अवैध रेत खनन कार्यों को नियंत्रित करते हैं। सिर्फ इतना ही नही श्री चन्नी राज्य के सबसे बड़े अवैध कॉलोनाइजर हैं।

     जब परिवहन मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग के दावे के बारे में पूछा गया तो उन्होने बादल परिवार के स्वामित्व वाली ट्रांसपोर्ट कंपनी को करों में 14 करोड़ रूपये खर्च करने के लिए मजबूर किया है, तो अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि यह सरासर झूठ है। ‘‘ मैं राजा वड़िंग को इस संबंधी रसीद दिखाने के लिए चुनौती देता हूं, 14 करोड़ तो भूल जाइए, मैं चुनौती देता हूं कि वे 10 करोड़ रूपये यां 5 करोड़ रूपये की रसीद दिखाएं जो हमारे परिवार के स्वामित्व वाली किसी भी परिवहन कंपनी से वसूल की गई है।

     इस बीच सरदार बादल ने एक बड़ी घोषणा में कहा कि राज्य में शिअद-बसपा सरकार बनने के बाद कंडी क्षेत्र विकास का एक अलग मंत्रालय बनाया जाएगा तथा अगली सरकार कंडी बेल्ट में उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए एक विशेष नीति भी लाएगी।

    सरदार बादल का सुबह यहां पहुंचने पर बड़ी गर्मजोशी से स्वागत किया गया। उत्साह ऐसा था कि विधानसभा क्षेत्र में दिन भर सैंकड़ों नौजवान उनके साथ रहे । उन्होने बोदल बेर शाह, बुढ़ो बरकत, घोगरा व तलवाड़ा में विभिन्न जनसभाएं की। उन्होने गुरुद्वारा गरना साहिब और तप स्थान बाबा घरहा दास जी में नतमस्तक हुए।

    इस हलके के दौरे के दौरान जतिंदर सिंह लाला बाजवा, वरिंदर सिंह बाजवा, सुरिंदर सिंह भुल्लेवाल राठां, सर्बजोत सिंह साबी, बलबीर सिंह मिआनी, लखविंदर सिंह लक्खी तथा गुरप्रीत सिंह चीमा भी शिअद अध्यक्ष के साथ मौजूद थे।


Nov 25 2021 9:53PM
city scam case ludhiana
Source: Punjab E News

Leave a comment