Congress High Command 2022 विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद के लिए चेहरा बताए: सरदार सुखबीर सिंह बादल

congress high command tell face for 2022 election

Congress High Command 2022 विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद के लिए चेहरा बताए: सरदार सुखबीर सिंह बादल

कहा कि कांग्रेस में लड़ाई सिर्फ सत्ता  की लालसा के लिए 

पायल से वरिष्ठ कांग्रेसी जगदेव सिंह बोपाराय शिरोमणी अकाली दल में शामिल हुए

Punjab E News:-  शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने आज कांग्रेस हाईकमान से 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का मुख्यमंत्री चेहरा के बारे स्पष्ट करने के लिए कहा है। उन्होने जोर देकर कहा कि पार्टी मुख्यमंत्री बदलने के साथ अपनी विफलताओं को छिपा नही सकती।

     सरदार सुखबीर सिंह बादल यहां वरिष्ठ कांग्रेस और प्रमुख उद्यमी जगदेव सिंह बोपाराय का सम्मान करते हुए संबोधित कर रहे थे। पायल विधानसभा क्षेत्र से संबंधित अपनी पूरी टीम के साथ शामिल हुए सरदार बोपाराय ने कहा कि उनका कांग्रेस पार्टी से पूरी तरह मोहभंग हो गया था, जो केवल लोगों को लूटने में रूचि रखते हैं। उन्होने घोषणा की कि वह बिना शर्त शिरोमणी अकाली दल में शामिल हुए हैं, और पायल के साथ साथ दोआबा बेल्ट में अपने समर्थकों और गरीबों के लिए ईमानदारी से काम करेंगें। अकाली दल अध्यक्ष ने पार्टी में उनका स्वागत करते हुए आश्वासन दिया कि उन्हे पार्टी में उचित सम्मान दिया जाएगा।

     इससे पहले अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि पंजाबी यह जानने के लिए उत्सुक हैं कि 2022 विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस पार्टी का चेहरा कौन है। ‘‘ पहले कांग्रेस आलाकमान ने एक नाम की घोषणा की, लेकिन आपत्ति जताई गई तो अब दो नामों की घोषणा की है। शीघ्र ही तीन नेता हो सकते हैं, जिन्हे यह कार्यभार दिया जाएगा। पंजाबियों को पता है कि असली नेता कौन है, क्योंकि शीर्ष पद के लिए लड़ाई के दौरान पहली पंसद किसी और की थी, लेकिन दूसरी पंसद की तस्वीरें भी जारी की गई थी, परंतु अंतिम विकल्प के रूप  अंत में उभरा था’’।

      सरदार बादल ने कहा कि यह साबित हो गया कि कांग्रेस पार्टी में लड़ाई का किसी सार्वजनिक मुददे से कोई लेना-देना नही है, लेकिन शीर्ष पद के लिए लड़ाई थी। ‘‘यह लड़ाई सत्ता के लिए थी। जबकि निवर्तमान नेतृत्व ने जहां राज्य को लूटा है, वहीं आने वाले लोग अगले तीन महीनों मे भी ऐसा ही करने का मौका हथियाना चाहते हैं’’। उन्होने कहा कि सच्चाई यह है कि पंजाबियों को नाकाम करने के लिए पूरी कांग्रेस पार्टी जिम्मेदार है। पार्टी के चुनावी घोषणा पत्र के पीछे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी का हाथ था, और उन्होने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा किए गए सभी वादों का समर्थन किया था। ऐसा करने के बजाय कांग्रेस पार्टी अब लोगों को मुख्यमंत्री बदलकर लोगों को मुर्ख बनाना चाहती है। परंतु पंजाबी 2022 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी को करारा जवाब देंगें।

      इस अवसर पर पूर्व मंत्री सरदार बिक्रम सिंह मजीठिया, शरनजीत सिंह ढ़िल्लों, हरीश राय ढांडा तथा इस्सर सिंह मेहरबान भी मौजूद थे।

      इस अवसर पर  सरदार जगदेव सिंह बोपाराय एम.डी बोपोराय इलेक्ट्रिकल हलका पायल, स. हरदीप सिंह बोपाराय, डायरेक्टर बोपाराय इलेक्ट्रिकलस्, स. मोहन सिंह पायल, वर्तमान विधायक स. लखवीर सिंह लक्खा के अंकल, हलका पायल, स. लखविंदर सिंह पायल, श्री वरिंदर कुमार बावा पायल, श्री विजय कुमार पायल, स. सुरजीत सिंह पायल, स. करनैल सिंह गुढानी खुर्द, स. सुरजीत सिंह गुढानी खुर्द, स. सुखविंदर सिंह गुढानी खुर्द, स. लखवीर सिंह गुढानी खुर्द, स. गुरमिंदर सिंह हैप्पी गुढानी खुर्द, स. हरमीत सिंह मखसोदरा, स. गुरमैल सिंह मकसोदरा, स. जसप्रीत सिंह मकसोदरा, स. अवतार सिंह मकसोदरा, स. सर्बजीत सिंह मकसोदरा, श्री मेली राम दाउमाजरा, स. राज सिंह शाहपुर, स. बलवीर सिंह गुढानी कलां और स. बुटा सिंह बगली शिरोमणी अकाली दल में शामिल हुए।


Sep 22 2021 7:39PM
congress high command tell face for 2022 election
Source: Punjab E News

Leave a comment