मैं अजीत सिंह से कभी नही मिला, कुंवर विजय प्रताप सिंह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करूंगा: सुखबीर बादल

defamation

मैं अजीत सिंह से कभी नही मिला, कुंवर विजय प्रताप सिंह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करूंगा: सुखबीर बादल

कहा कि लगाए गए आरोप गहरी हताशा का परिणाम

कहा कि कांग्रेस सरकार ने आई.जी का इस्तेमाल मुझे निशाना बनाने के लिए किया

Punjab E News :-  शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने आज कहा है कि वह कोटकूपरा पुलिस फायरिंग  मामले में गवाह अजीत सिंह से कभी भी नही मिले और वह आईजी कुंवर विजय प्रताप सिंह के खिलाफ झूठा दावा करने के लिए कि उन्होने गवाह को शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी(एसजीपीसी) में नौकरी के वादे के साथ लुभाने की कोशिश की, के लिए मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे ।

    अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि यह स्पष्ट है कि आई.जी कुंवर विजय प्रताप सिंह को अकाली दल तथा बादल परिवार को निशाना बनाने का जुनून सवार था और इसी उददेश्य से उन्होने राज्य के डीजीपी को दुर्भावनापूर्ण पत्र भेजकर ये गलत आरोप लगाए। उन्होने कहा ,‘ आई. जी को हाईकोर्ट में कोटकपूरा गोलीकांड की कार्रवाई के बारे में पता था कि उनकी जांच को दरकिनार कर दिया जाएगा’। हाल ही के आरोप इस गहरी साजिश तथा हताशा का नतीजा है और इसका उददेश्य कांग्रेस पार्टी के राजनीतिक एजेंडे को आगे बढ़ाते हुए तीन साल बर्बाद करने के लिए एक मामले का राजनीतिकरण करना है। उन्होने कहा कि ‘आई. जी ने कांग्रेस सरकार के कहने पर इस मामले में अकाली दल तथा उसके वरिष्ठ नेताओं को फंसाने की कोशिश की लेकिन वह नाकाम रहे।   अब वह वरिष्ठ लीडरशीप को बदनाम करने के लिए एक पत्र का सहारा  ले रहे हैं।  यह आई.जी द्वारा अपने पद के घोर दुरूपयोग करने का स्पष्ट मामला है ताकि दोषियों को पकड़ने के बजाय अपने राजनीतिक आकाओं को खुश कर सके।

         बादल ने जोर देकर कहा कि अजीत सिंह ने यह दावा किया कि उसे एसजीपीसी से किसी ने भी नौकरी का आफॅर नही मिला तथा न ही सिख संस्था ने नौकरी के लिए उससे संपर्क किया। उन्होने कहा , ‘ गवाह ने यह साफ तौर पर लिखा है कि एसजीपीसी ने उसे नौकरी का आफॅर देने के लिए कभी भी संपर्क नही किया गया ’।  उन्होने कहा कि गवाह के इतने स्पष्ट तौर पर खंडन के बावजूद, आई. जी मीडिया के एक भाग में दुर्भावनापूर्ण रिपोर्ट को प्रकाशित करवाने पर  उत्सुक था। ‘ सरदार बादल ने कहा कि ‘ मेरे वकील इस मामले की जांच कर रहे हैं ताकि पता लगाया जा सके कि क्या यह मुझे बदनाम करने की गहरी साजिश है क्योंकि यह वास्तविक मीडिया का कर्तव्य है कि वह इस तरह हानि पहुंचानी वाली खबरे जिनका कोई आधार नही है उनसे दूर रहे। उन्होने कहा कि यह सामाजिक हस्ती के खिलाफ बदलाखोरी की भावना से किया गया है तथा इसका कोई आधार नही है।

      बादल  ने कहा कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी से संबंधित सभी मामलों की तुरंत जांच के लिए शिरोमणी अकाली दल हमेशा खड़ा रहा है। उन्होने कहा , ‘ मैं यह हमेशा कहता रहा हूं कि जिन्होने बेअदबी की है  बल्कि इसके पीछे जो भी लोग हैं तथा इस संवेदनशील मुददे पर बेअदबी कर रहे हैं उनका भी कुछ न रहे’।  उन्होने कहा कि बेअदबी मामले पर दोषियों पर नकेल कसने के बजाय कांग्रेस सरकार कुंवर विजय प्रताप सिंह का इस्तेमाल राजनीति करने के लिए कर रही है।


Apr 19 2021 8:33PM
defamation
Source: Punjab E News

Leave a comment