ठग नहीं पाएंगी अब डायरेक्ट मार्केटिंग कंपनियां, यह हुए बदलाव 

direct selling guidelines

ठग नहीं पाएंगी अब डायरेक्ट मार्केटिंग कंपनियां, यह हुए बदलाव 

डायरेक्ट मार्केटिंग कर सामान बेचने वाली कंपनियां अब लोगों को लालच देकर धोखाधड़ी नहीं कर पाएंगी। हिमाचल प्रदेश सरकार ने ऐसी कंपनियों पर शिकंजा कसने के लिए डायरेक्ट सेलिंग दिशा निर्देश को मंजूरी दे दी। प्रदेश सचिवालय में मंत्रिमंडल की बैठक में सरकार ने लोगों के हित सुरक्षित रखने का बड़ा निर्णय लिया है। इससे पहले केंद्र सरकार ने डायरेक्ट मार्केटिंग कंपनियों पर शिकंजा कसने के लिए वर्ष 2016 में दिशानिर्देश जारी किए थे।

      मार्किट में कई कंपनियां डायरेक्ट मार्केटिंग करती हैं। ये कंपनियां उत्पाद को सेल्स रिप्रेजेंटेटिव्स के जरिये ग्राहकों को सीधे बेचती हैं। सेल्स रिप्रेजेंटेटिव्स कंपनी के कर्मचारी नहीं होते हैं बल्कि उन्हें बिक्री पर कमीशन मिलती है। ऐसी कई कंपनियां ग्राहकों को आगे से आगे ग्राहक बनाने (पिरामिड) का लक्ष्य देती हैं। अब कंपनियां ग्राहकों को ठगने के लिए पिरामिड जैसी योजना नहीं चला पाएंगी। ग्राहकों से सीधे लेन-देन करने वाली कंपनियों को लिखित वादे करने होंगे। एजेंट रखते हुए उनसे किसी प्रकार की फीस वसूली नहीं होगी। धोखाधड़ी करने पर आरोपितों को गिरफ्तार करने के अलावा जुर्माना भी होगा।


Jul 18 2019 11:11PM
direct selling guidelines
Source: Punjab E News

Leave a comment