गैर संवैधानिक सुपर मुख्यमंत्री को अपने पर हावी न होने दें चन्नी: बादल

farmers issues in punjab

गैर संवैधानिक सुपर मुख्यमंत्री को अपने पर हावी न होने दें चन्नी: बादल

कहा कि अकालियों को गिरफ्तार करने के इनाम के तौर पर पुलिस पोस्ट की पेशकश की जा रही

सुरक्षा वापिस लेने की धमकियों के बारे सरदार सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि यदि तुम्हे अतिरिक्त लगती है तो वापिस ले लो, मुझे परवाह नही

कहा कि गिरफ्तारी की परवाह नही, बताओं कहा आएं

कांग्रेस साम्प्रदायिक तथा जातिवादी का पत्ता खेलकर शांति तथा सदभावना के माहौल का खराब करना चाहती है

 Punjab E News (Chandigarh News):- शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल ने आज मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से कहा है कि वे  जिस  पद पर बैठे हैं, उसके अनुसार व्यवहार करें तथा एक गैर संवैधानिक सुपर सी एम को उनपर नकली तथा रबड़ की मोहर की तरह समझकर उनपर हावी न होने दें।

 सुखबीर बादल किसान मसलों तथा पंजाब के राज्यपाल से मुलाकात के लिए अकाली दल के प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई करने के बाद सरकार के फैसलों में नवजोत सिंह सिद्धू की भूमिका के बारे सवालों के जवाब दे रहे थे। उन्होने किसानों को अधिग्रहीत की जा रही जमीन का उचित मुआवजा न देने तथा किसानों को खासतौर पर मामला बेल्ट  में बीमारी तथा नकली बीजों तथा दवाईयों के कारण पड़े घाटे के लिए उचित मुआवजा न देेने का मामला उठाया।

     बादल ने कहा कि उन्होने उनकी सुरक्षा प्रबंधों तथा कारों के बारे कुछ हास्यास्पद बयान सुने हैं। उन्होने कहा कि मैं मुख्यमंत्री तथा उनकी पार्टी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को याद करवाना चाहता हूं कि उन्होने कैप्टन अमरिंदर सिंह से कार लेने के लिए अनुरोध किया था तथा सोनिया तथा राहुल गंाधी से भी हस्तक्षेप करवाया था। उस समय सरकार में भी नही थे पर फिर भी सरकारी कार का उपयोग कर रहे थे।

   बादल ने कहा कि कांग्रेस यह संदेश भेजकर सारे राज्य के अनुसूचित जाति के लोगों का अपमान कर रही है कि चन्नी मुख्यमंत्री पद के लिए पांचवा विकल्प थे तथा उन्हे न सिर्फ डिप्टी मुख्यमंत्री उन पर हावी हो रहे हैं, बल्कि सरकार से बाहरी लोगों को भी उन पर हावी होने की आज्ञा दी जा रही है।

   उन्होने कहा कि श्री चन्नी को तो अकाली दल का आभार व्यक्त करना चाहिए क्योंकि पार्टी द्वारा एस.सी वर्ग से उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा करने के कारण ही कांग्रेस सरकार उन्हे मुख्यमंत्री बनाने के लिए मजबूर होना पड़ा तथा श्री चन्नी को लाभ मिल गया।

    सरकार द्वारा मनगढ़ंत दोषों के आधार पर कुछ अकाली नेताओं को गिरफ्तार करने की योजना बनाने की रिर्पोटों के बारे मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए सरदार बादल ने कहा कि हम तैयार हैं। इसके लिए सरकार को अपना तथा राज्य का समय बर्बाद नही करना चाहिए तथा अपनी बदलेखोरी की प्यास शीघ्र बुझानी चािहए। उन्होने कहा कि तुम हमें बताओं की गिरफ्तारी देने के लिए हम कहां आएं ताकि तुम्हारा समय तथा शक्ति बर्बाद न हो।

    उन्होने कहा कि वह हमें निशाना बना रहे हैं, क्योंकि वह जानते हैं कि सरकार के पास गिनती के दिन रह गए हैं तथा राज्य में शिअद-बसपा गठबंधन सरकार बननी तय है। इसीलिए वह डर गए हैं तथा अंधेरे में तीर चला रहे हैं।

     सरदार बादल ने कहा कि सरकार अफसरों को बुलाकर उन्हे अकाली नेताओं को गिरफ्तार करने के बदले में पुरस्कार के तौर पर ताकत वाली पोस्ट पर लगाने की पेशकश कर रही है। इनमें से कई अफसरों ने आप फोन करके हमें बताया है कि उनपर दबाव डाला जा रहा है। उन्होने कहा कि मैंने  अफसरों से  कहा है कि वह घबराएं नही बल्कि जो सरकार कह रही है, वही करें। उन्होने कहा कि हम यह देख रहे हैं कि कौन संविधान की रेखा पार करता है।

     सरदार बादल ने कहा कि यह सरकार अपनी अंदरूनी खींचोंतान तथा नालायकी तथा बदलाखोरी तथा बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर छिपाना चाहती है। उन्होने कहा कि  तुम हम अकालियों को डरा नही सकते। उन्होने कहा कि जिस काम में इंदिरा गांधी फेल हो गई थी फिर तुम इसमें सफल कैसे सफल होगे। उन्होने कहा कि जिस दिनल से अकाली पैदा हुए हैं, उस दिन से बदलाखोरी, दमन तथा गिरफ्तारियों का सामना कर रहे हैं। हर अकाली परिवार में पैदा व्यक्ति इनके साथ लड़ाई कर रहा है। आ जाओ तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं, यां फिर हमें बताओं कि हम कहां आएं।

     बादल ने कहा कि पिछले कुछ दिन की घटनाओं ने साबित कर दिया है कि कांगेस पार्टी को साम्प्रायिक तथा भाईचारक सांझ को तोड़ना चाहती है तथा राज्य में हमारे गुरु साहिबान, ऋषियों मुनियों तथा सूफी संतों द्वारा दी शिक्षा के साथ बने साम्प्रदायिक सदभावना तथा धर्म को बहुत बड़ा खतरा है। बांटों तथा राज करो का पुरानी कांगे्रसी एजेंडा दोबारा वापिस आ गया है।


Sep 24 2021 3:36PM
farmers issues in punjab
Source: Punjab E News

Leave a comment