Ram Rahim को दी गई फरलो के खिलाफ दायर याचिका पर कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

high court reserves decision on petition filed against furlough given to ram rahim

Ram Rahim को दी गई फरलो के खिलाफ दायर याचिका पर कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

Punjab E News (Rajkumar Bhalla):डेरा मुखी गुरमीत राम रहीम को हरियाणा सरकार द्वारा 20 दिनों की फरलो दी गई थी,उसके खिलाफ दायर याचिका पर हाईकोर्ट ने मामले के सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अपना फैसला सुरिक्षत रख लिया है। वहीं जस्टिस राजमोहन सिंह के याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रखते हुए कहा कि यह तय किया जायेगा कि डेरा मुखी हार्ड-कोर क्रिमिनल है या नहीं। उधर हरियाणा सरकार ने इस मामले में अपना पक्ष रखा कि राम रहीम को हार्ड-कोर क्रिमिनल नहीं माना जा सकता है,डेरा मुखी पर हत्या की साजिश रचने के आरोप में दोषी करार दे सजा सुनाई गई है, इन मामलों में उसे सहअभियुक्तों के साथ साजिश रचने का आरोप था,ऐसे में उसे हार्ड-कोर क्रिमिनल नहीं कहा जा सकता है। 

बताया जा रहा है की जेल में डेरा मुखी के व्यव्हार को देखते हुए और इस पर कानूनी राय लेने के बाद ही फरलो दी गई थी। साथ ही याचिकाकर्ता का आरोप था कि डेरा मुखी हत्या और बलात्कार जैसे संगीन अपराधों में दोषी करार दिया गया है ऐसे में वह एक हार्ड-कोर क्रिमिनल है,जिसे फरलो नहीं दी जानी चाहिए। बता दें कि डेरा मुखी को दी गई फरलो के खिलाफ पटियाला के भादसों निवासी परमजीत सिंह सहोली ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर आरोप लगाया है, कि डेरा मुखी पहले ही कई संगीन अपराधों का दोषी करार दिया जा चुका है और सुनारिया जेल में सजा काट रहा है। इसके अलावा उसके खिलाफ कुछ अन्य आपराधिक मामले अभी भी अदालतों में चल रहे हैं। बावजूद इसके सरकार ने राम रहीम को 7 से 27 फरवरी तक 20 दिनों की फरलो दिए जाने के आदेश दे दिए जोकि पूरी तरह से गलत है। 


Feb 26 2022 1:04PM
high court reserves decision on petition filed against furlough given to ram rahim
Source: Punjab E News

Latest post

Political News

Crime News