टाइम्स हायर एजुकेशन रैंकिंग में एलपीयू दुनिया की टॉप 200 यूनिवर्सिटीज में घोषित

lpu university

टाइम्स हायर एजुकेशन रैंकिंग में एलपीयू दुनिया की टॉप 200 यूनिवर्सिटीज में घोषित

Punjab E News एलपीयू अपने पहले वर्ष में ही दूसरी रैंकिंग के साथ भारत का एक उच्चतम विश्वविद्यालय बना

· 'अफोर्डेबल और क्लीन एनर्जी ' अपनाने के लिए एलपीयू इंपैक्ट रैंकिंग-2021 में सभी भारतीय विश्वविद्यालयों के बीच टॉप स्थान पर है (जबकि विश्व में 22 वें पर)

·  'बढ़िया कार्य और आर्थिक विकास' के लिए एलपीयू को पूरे भारत में दूसरा स्थान मिला - यह एक ऐसा पैरामीटर जो यूनिवर्सिटी को इसके विद्यार्थियों की प्लेसमेंट्स, इसकी  इकोनॉमिक्स  रिसर्च और रोजगार प्रथाओं पर संयुक्त रूप से मापता है

· इस रैंकिंग में एलपीयू को आईआईटी (इंदौर, राउरकेला, गुवाहाटी, गांधीनगर); एनआईटी (सिलचर, तिरुचुरापल्ली), टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टीआईएसएस); मणिपाल अकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन; एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (एसआरएमआईएसटी) और वीआईटी यूनिवर्सिटी से आगे स्थान मिला है

जालंधर: टाइम्स हायर एजुकेशन इम्पैक्ट रैंकिंग्स-2021 में वर्ल्ड के टॉप 200 विश्वविद्यालयों में घोषित होने से लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) ने देश का गौरव बढ़ाया है। एलपीयू ने इस प्रभावशाली रैंकिंग में पहली बार भाग लिया और इसे सभी भारतीय विश्वविद्यालयों के बीच अपने पहले वर्ष में ही टॉप सेकंड स्थान प्राप्त हो गया। इस वर्ष रैंकिंग में एलपीयू सहित केवल तीन भारतीय विश्वविद्यालयों को ही विश्व के शीर्ष 200 में रैंक किया गया है।

एलपीयू को 'किफायती और स्वच्छ ऊर्जा' पर ध्यान केंद्रित करने के लिए इस रैंकिंग में सभी भारतीय विश्वविद्यालयों के बीच ध्रुव सितारे की तरह टॉप स्थान मिला है। यह पैरामीटर यूनिवर्सिटी की ऊर्जा संबंधित रिसर्च, इसके द्वारा ऊर्जा उपयोग और नीतियां,  और व्यापक समुदाय में ऊर्जा दक्षता को बढ़ावा देने की उनकी प्रतिबद्धता को आंकता है। 'सभ्य  कार्य और आर्थिक विकास' वर्ग के लिए एलपीयू को पूरे भारत में दूसरा (विश्व में 59 वां) स्थान मिला है। यह एक ऐसा पैरामीटर है जो यूनिवर्सिटी को इसके विद्यार्थियों की प्लेसमेंट्स, इसकी इकोनॉमिक्स रिसर्च और रोजगार प्रथाओं पर संयुक्त रूप से आंकता  है। 'लक्ष्यों के लिए साझेदारी' वाले पैरामीटर पर एलपीयू को भारत में प्रथम स्थान पर रखा गया है। यह पैरामीटर उन व्यापक तरीकों को देखता है जिनसे यूनिवर्सिटी अन्य देशों के सहयोग के माध्यम से एसडीजी (सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स) का समर्थन करती है, तथा सर्वोत्तम प्रथाओं और डेटा के प्रकाशन को प्रोत्साहित करती है ।

इस रैंकिंग में एलपीयू को देश के कई प्रमुख संस्थानों/विश्वविद्यालयों जैसे कि आईआईटी (इंदौर, राउरकेला, गुवाहाटी, गांधीनगर); एनआईटी (सिलचर, तिरुचुरापल्ली), टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टीआईएसएस); मणिपाल अकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन; एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी और वीआईटी यूनिवर्सिटी तथा कई अन्य से आगे स्थान मिला है।

इस गौरव पर लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी के चांसलर श्री अशोक मित्तल कहते हैं , "यह हमारे लिए बहुत ही गर्व की बात  है कि हमने सीधे ही ग्लोबल टॉप 200 की सूची में शामिल होने के साथ शुरुआत की है। अतीत में कई भारतीय विश्वविद्यालयों को टॉप 200 की सूची में शामिल नहीं किया गया, और अब हमें भारत के लिए इस गौरव को प्राप्त करने पर बहुत गर्व महसूस हो रहा है।"


Apr 22 2021 5:08PM
lpu university
Source: Punjab E News

Leave a comment