Breaking News

सरकार में नज़रअंदाज़ी बढ़ती देख राहुल गाँधी से मिलने पहुंचे सिद्धू

punjab congress navjot sidhu rahul gandhi cm captain amrinder singh

सरकार में नज़रअंदाज़ी बढ़ती देख राहुल गाँधी से मिलने पहुंचे सिद्धू

 

New Delhi (punjab e news ) बात केबल माफिया की हो ,रेत खनन पॉलिसी की या फिर वन टाइम सेटलमेंट स्किम तहत अवैध कॉलोनियों को रेगुलर करने की, कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू को हर मोर्चे पर सी एम कैप्टन तथा उनके करीबियों से दो चार होना पड़ा है। 


   अभी कल की ही बात है जब सी एम से सिद्धू द्वारा अकाली भाजपा सरकार द्वारा किये गए विज्ञापन घोटाले के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इसे सिरे से नकार दिया। बोले अब इसका कोई तुक नहीं की उन्होंने विज्ञापनों पर कितने पैसे खर्च कर दिए। सिद्धू अंदर से भरे पड़े थे, सो बुधवार को वह दिल्ली दरबार पहुंच गए। मीडिया  में आयी रिपोर्ट के मुताबिक सिद्धू ने किसी से भी कोई नाराज़गी होने से इंकार किया है। 


    चलो मान लेते है। यह सब ब्यान शुद्ध सियासी होते हैं। इसमें कोई शक नहीं की सिद्धू ने अपने मन की बात पार्टी प्रधान से की। लेकिन वह शायद भूल गए की फिलहाल अमरिंदर सिंह  कांग्रेस के कैप्टन हैं। यह राहुल की ही सलाह थी उन्हें बाहर जा कर भी अपना गुस्सा छुपाना पड़ रहा है।  जानकारी के अनुसार सिद्धू की व्यथा सुनने के बाद राहुल ने निजी तौर पर कैप्टन से बात करने की हामी भरी है।  


Aug 1 2018 7:25PM
punjab congress navjot sidhu rahul gandhi cm captain amrinder singh
Source: punjab e news

Leave a comment





DC appeals to healthcare workers to get Covid-19 vaccine jab as Feb 25 is the last date for the inoculation --- पुलिस कमिश्नर द्वारा में कोविड -19 प्रोटोकॉल की सख़्ती से पालना के आदेश जारी --- विजीलैंस ने रिश्वत लेते हुए जालंधर थाना छावनी के ए.एस.आई और हवलदार को 20,000 रुपए की रिश्वत लेते किया काबू --- मुख्यमंत्री द्वारा ग्रामीण नौजवानों के लिए मिनी बस परमिट नीति का ऐलान, अप्लाई करने के लिए कोई समय -सीमा नहीं होगी --- प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी योजना को लागू करने में जि़ला रूपनगर देशभर में सबसे आगे, नरेन्द्र सिंह तोमर ने दिया अवार्ड --- SAD द्वारा राज्य कर्मचारियों के लिए केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिश लागू करवाने के लिए कांग्रेस सरकार के फैसले को निरस्त करने की मांग को लेकर विधानसभा में प्रस्ताव पेश