आप के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने ली राज्यसभा की सदस्यता शपथ, बोले पंजाब और देश के हकों के लिए उठाऊंगा आवाज़

raghavchadha tookoath

आप के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने ली राज्यसभा की सदस्यता शपथ, बोले पंजाब और देश के हकों के लिए उठाऊंगा आवाज़

Punjab E News :- आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने आज संसद में राज्यसभा सांसद के पद की शपथ ग्रहण की। राघव चड्ढा को सहज और सरल युवा नेता के रूप में जाना जाता है। दिल्ली में अपनी छाप छोड़ने के बाद, पंजाब में आम आदमी पार्टी की सोच और सकारात्मक कार्यों का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें न केवल राष्ट्र निर्माण के प्रति अपने राजनीतिक कौशल का इस्तेमाल करते हुए देखा जाता है, बल्कि कई राज्यों विशेष रूप से नई दिल्ली और पंजाब में बड़े पैमाने पर पार्टी के संगठन को सशक्त बनाने, अभियानों की रूपरेखा तैयार कर उनको लागू करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए देखा जाता है।

    लंबे समय से उनका मिशन भारत के युवाओं को सशक्त बनाने और राजनीति में आगे लाने की दिशा में भी रहा है। वह आम आदमी पार्टी के सबसे कम उम्र के राष्ट्रीय प्रवक्ता के रूप में सुर्खियों में आए। जिन्हें दैनिक समाचार चैनलों पर अनुभवी राजनेताओं से बहस करते देखा जाता था। इन टीवी डिबेट से सोशल मीडिया पर उन्हें पसंद करने वाले फैन्स का एक बड़ा वर्ग तैयार हो गया। 

    राघव चड्ढा के आप से जुड़ने की एक दिलचस्प कहानी है। उन्होंने मॉडर्न स्कूल, बाराखंभा रोड, नई दिल्ली से पढ़ाई की। दिल्ली विश्वविद्यालय से वाणिज्य में स्नातक (बी.कॉम) किया और उसके बाद अपने पहले प्रयास में चार्टर्ड अकाउंटेंसी पूरी की। उन्होंने ग्रांट थॉर्नटन, डेलॉइट, श्याम मालपानी जैसे उल्लेखनीय ब्रांडों के साथ काम किया और चार्टर्ड एकाउंटेंट का अभ्यास जारी रखा। इसके बाद राघव चड्ढा ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (एलएसई) में दाखिला लेकर वहां एक बुटीक वेल्थ मैनेजमेंट फर्म की स्थापना की।

   यह वह दौर था जब अन्ना आंदोलन अपने चरम पर था। चूँकि आंदोलन अपने अंतिम चरण की ओर था। इसलिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने अभी तक इस बारे में कोई निर्णय नहीं लिया था कि राजनीतिक दल बनाया जाए या नहीं। उसी दौरान राघव चड्ढा ने सीएम केजरीवाल से मुलाकात की। इसके बाद उन्हें 2012 में दिल्ली लोकपाल विधेयक का मसौदा तैयार करने का काम सौंपा गया था।

    अपनी राजनीतिक यात्रा की शुरुआत में उन्होंने 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन दूसरे स्थान पर रहे। लोकसभा चुनाव में नई दिल्ली में आप के सभी उम्मीदवारों में सबसे अधिक वोट हासिल करने वाले कैंडिडेट रहे। इसके बाद दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में राजेंद्र नगर क्षेत्र से चुनाव लड़ा और 20,058 मतों के अंतर से भाजपा के उम्मीदवार आरपी सिंह के खिलाफ जीत दर्ज की। विधानसभा चुनावों के बाद, उन्हें दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) के उपाध्यक्ष के अतिरिक्त प्रभार से सम्मानित किया गया और दिल्लीवासियों को स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने का कार्य सौंपा गया। उन्होंने घोषणा की कि दिल्ली जल बोर्ड की प्रमुख प्राथमिकताओं में सभी घरों में 24x7 स्वच्छ पाइप पानी की आपूर्ति और यमुना की सफाई करना है। विधायक राघव चड्ढा से सीधे जुड़ने के लिए राजेन्द्र नगर विधानसभा में एक 24×7 हेल्पलाइन भी शुरू की। लॉकडाउन  के दौरान क्षेत्र के निवासियों के लिए एक 'जीवन रेखा' में बदल गई, जिससे सैकड़ों समस्याओं का हल हुआ ।

    सीएम अरविंद केजरीवाल जी के करिश्माई नेतृत्व में युवा आइकॉन राघव चड्ढा ने साफ-सुथरी राजनीति और स्वयंसेवा के आदर्शों को आगे बढ़ाने का काम किया है। यही वजह है कि वे बहुत ही कम समय में देश में युवाओं के आदर्श बनकर उभरे हैं। राघव चड्ढा को 2022 में राज्य में विधानसभा चुनावों से पहले पंजाब इकाई के लिए पार्टी के सह-प्रभारी के रूप में नियुक्त किया गया था। यह एक कठिन राजनीतिक कार्य था क्योंकि पंजाब चुनौतीपूर्ण समय से गुजर रहा था। जनता के लिए शिक्षा और समृद्धि सुनिश्चित करने के प्रयासों के साथ, उन्होंने पंजाब को बदलने की जिम्मेदारी ली। पंजाब को रंगला और सुनेहरा बनाने में सफल रहे। विनम्र-ईमानदार राजनीति से पारंपरिक पार्टियों के किले को तोड़ना एक बहुत बड़ा काम था। सीएम अरविंद केजरीवाल के नक्शेकदम पर चलते हुए राघव चड्ढा चुनौती को पूरा करने के लिए आगे बढ़े। उन्होंने 117 की विधानसभा में से 92 सीटों पर पार्टी को अभूतपूर्व जीत दिलाई।

    लोग उन्हें प्यार से भारत की बदलती राजनीति का चेहरा कहते हैं। उनका पार्टी और राजनीतिक क्षेत्र में उदय उस परिवर्तन का साक्षी है। पंजाब की जीत के तुरंत बाद आम आदमी पार्टी ने नीली आंखों वाले लड़के को राज्यसभा में पंजाब राज्य का प्रतिनिधित्व करने के लिए भेजा।


May 2 2022 3:41PM
raghavchadha tookoath
Source: Punjab E News

Latest post

Political News

Crime News