अकाली दल को पंजाब में अपना वोट बैंक खिसकते देख दलित समुदाय आया याद : अश्वनी शर्मा

vote bank

अकाली दल को पंजाब में अपना वोट बैंक खिसकते देख दलित समुदाय आया याद : अश्वनी शर्मा

अकाली दल द्वारा दलित उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा उनकी सामंतवादी सोच का जीता जागता उदहारण : शर्मा

 Punjab E News (Kuldeep, Chandigarh):-  अकाली दल के सीनियर नेता द्वारा उपमुख्यमंत्री पद दलित को दिए जाने के ब्यान पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने आड़े हाथों लेते हुए कहाकि आज अकाली दल को पंजाब में अपना वोट बैंक खिसकते देख दलित समुदाय याद आ गया है जबकि भारतीय जनता पार्टी ने आज तक कभी भी किसी समुदाय से पक्षपात नहीं किया

                अश्वनी शर्मा ने कहाकि अकाली दल की दलित उपमुख्यमंत्री बनाने की घोषणा उनकी सामंतवादी सोच का जीता जागता उदहारण है, क्यूंकि मुख्यमंत्री की कुर्सी अकाली दल फिर से अपने हाथ में रखना चाहता है। शर्मा ने कहाकि शायद अकाली दल के नेता ये भूल गए हैं कि पंजाब का 33% दलित समुदाय तय करेगा कि पंजाब का मुख्यमंत्री कौन होगा और किस समुदाय से होगामुख्यमंत्री का पद किसी के बाप की जागीर नहीं है।

                अश्वनी शर्मा ने कहाकि कांग्रेस तथा अकाली दल ने हमेशा से ही दलित समुदाय को अपने वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया है और सत्ता हाथ में आते ही दलितों को दरकिनार कर दिया लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा से दलित समुदाय को हमेशा से भारत का अभिन्न अंग माना है और दलित समुदाय को उनका हक दिया है भाजपा ने 2012 में अकाली दल के साथ गठबंधन सरकार में भी उपमुख्यमंत्री का पद दलित समुदाय को देने के लिए कहा था लेकिन लालच के चलते अकाली दल ने उस पद पर भी अपना नेता बिठाया भाजपा ने तब भी विधायक दल का नेता दलित को बनाया था

अश्वनी शर्मा ने कहाकि भाजपा की नियत और नीति बहुत स्पष्ट है केंद्र की मोदी सरकार द्वारा भारत के राष्ट्रपति पद पर दलित समुदाय के श्री राम नाथ कोविंद जी को पदभार दिया है, पिछली मोदी सरकार में विजय सांपला को कबिनेट मंत्री बनाया गया था, स्वर्णा राम को मंत्री पद दिया गया था, भगत चूनी लाल को कैबिनेट मंत्री बनाया गया था और भाजपा ने अकाली दल से तब उन्हें उप-मुख्यमंत्री बनाने की मांग की थी, राजेश बागा को पंजाब सरकार में चेयरमैन के पद दिया गया था, इस बार पंजाब से केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश को पदभार दिया गया है, दोबारा विजय सांपला को कमीशन का चेयरमैन बनाया गया है, सहित कई नेताओं को पदभार दिए हैं

अश्वनी शर्मा ने कहाकि 2022 के चुनाव को देखते हुए अब अकाली दल, कांग्रेस व अन्य राजनीतिक दल दलित समुदाय को सुनहरी सपने दिखाने लगे हैं, लेकिन दलित समुदाय इस बार उनके झांसे में नहीं आएगा शर्मा ने कहाकि भाजपा ने हमेशा से दलित समाज का हाथ आगे बढ़ कर थमा है और उनके साथ कंधे से कन्धा मिलाकर चली है और इस बार भी ऐसा ही होगा प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद दलित समाज को उनका हक अवश्य दिया जाएगा


Apr 14 2021 7:41PM
vote bank
Source: Punjab E News

Leave a comment