Breaking News

व्हॉट एन आईडिया मंत्री जी : सरकारी स्कूलों में ही पड़ें अध्यापकों के बच्चे ,रिजल्ट होंगे बेहतर

what an idea education dept. o p soni govt teacher govt schools education system in punjab

व्हॉट एन आईडिया मंत्री जी : सरकारी स्कूलों में ही पड़ें अध्यापकों के बच्चे ,रिजल्ट होंगे बेहतर

Chandigarh  (Manmohan Singh )  पंजाब सरकार के शिक्षा विभाग ने सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर बेहतर करने का एक नायाब तरीका ढूंढा है। शिक्षा मंत्री ओ पी सोनी ने सभी सरकारी अध्यापकों को अपने बच्चे सरकारी स्कूलों में ही पढ़ाने की बात की है। मंत्री जी का कहना है की इससे स्कूलों का रिजल्ट पहले से बेहतर आने की उम्मीद बंध जाएगी। 


  इससे पूर्व कई मुलाज़िम संगठनो द्वारा शिक्षा मंत्री से अपनी मांगो को लेकर बैठक की। मंत्री सोनी ने पत्रकारों को बताया की सरकार अध्यापकों की जायज़ मांगे ज़रूर मानेगी पर सबसे पहले वह प्रदर्शन सुधारे। शिक्षा मंत्री ने यह भी माना की सरकार के स्तर पर जो कमियां है वह इसे जल्द पूरा करेंगे। शिक्षा मंत्री ने सभी सरकारी स्कूलों के प्रिंसिपलों को कम से कम 90 % रिजल्ट लाने को कहा है। ऐसा न होने की सूरत में प्रिंसिपलों खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी। 


       शिक्षा मंत्री ओ पी सोनी द्वारा जारी की गई निति शुरुवाती दौर में दमदार दिखाई दे रही है। अगर ऐसा हो जाता है तो आम जनता को अपने बच्चों की शिक्षा के लिए महंगे निजी स्कूलों के हाथों लूटना नहीं पड़ेगा। 


Jun 15 2018 11:27AM
what an idea education dept. o p soni govt teacher govt schools education system in punjab
Source: punjab e news

Leave a comment





DC appeals to healthcare workers to get Covid-19 vaccine jab as Feb 25 is the last date for the inoculation --- पुलिस कमिश्नर द्वारा में कोविड -19 प्रोटोकॉल की सख़्ती से पालना के आदेश जारी --- विजीलैंस ने रिश्वत लेते हुए जालंधर थाना छावनी के ए.एस.आई और हवलदार को 20,000 रुपए की रिश्वत लेते किया काबू --- मुख्यमंत्री द्वारा ग्रामीण नौजवानों के लिए मिनी बस परमिट नीति का ऐलान, अप्लाई करने के लिए कोई समय -सीमा नहीं होगी --- प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधी योजना को लागू करने में जि़ला रूपनगर देशभर में सबसे आगे, नरेन्द्र सिंह तोमर ने दिया अवार्ड --- SAD द्वारा राज्य कर्मचारियों के लिए केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिश लागू करवाने के लिए कांग्रेस सरकार के फैसले को निरस्त करने की मांग को लेकर विधानसभा में प्रस्ताव पेश